कार्तिक पूर्णिमा पर करें अपने चंद्र को ठीक, अनेक परेशानियां होंगी दूर

0
8
Advertisement


Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

|

नई दिल्ली, 18 नवंबर। जन्म कुंडली में चंद्रमा को मन का कारक कहा गया है। चंद्र कमजोर हो तो जातक का मन कमजोर रहता है। वह हमेशा दुविधा की स्थिति में रहता है, कुछ भी निर्णय लेने में उसे परेशानी होती है, उसकी मानसिक स्थिति में अस्थिरता होती है। इसके उलट यदि चंद्र मजबूत हो तो जातक स्पष्टवादी, सटीक निर्णय लेने वाला और मन-मस्तिष्क से मजबूत, ऊर्जावान होता है। ज्योतिष में चंद्र को मजबूत बनाने के अनेक उपाय बताए जाते हैं। जिनमें से चंद्र के मंत्रों का जाप, चंद्र का रत्न पहनना, चंद्र के निमित्त दान आदि अनेक कर्म होते हैं। इन उपायों को वैसे तो प्रत्येक सोमवार को या प्रत्येक माह में आने वाली पूर्णिमा के दिन किया जा सकता है, लेकिन कार्तिक माह की पूर्णिमा का विशेष महत्व होता है। यदि आप भी अपने चंद्र को मजबूत करना चाहते हैं तो 19 नवंबर 2021 को आ रही कार्तिक पूर्णिमा के दिन ये विशेष उपाय अवश्य करें।

कार्तिक पूर्णिमा पर करें अपने चंद्र को ठीक, दूर होंगे कष्ट

मून मेडिटेशन

चंद्र कमजोर हो तो जातक मानसिक रूप से कमजोर रहता है। यदि चंद्र बहुत ज्यादा दूषित हो तो उसे मानसिक रोग तक हो जाते हैं। चंद्र को मजबूत करने के लिए पूर्णिमा के दिन फुल मून मेडिटेशन किया जाता है। इसके लिए कार्तिक पूर्णिमा की रात्रि में 11 से 1 बजे के बीच खुले आकाश के नीचे सफेद वस्त्र पहनकर सफेद रंग के कपड़े के आसन पर बैठें। ध्यान रहे आप जिस जगह मेडिटेशन कर रहे हैं वह स्थान एक साफ-सुथरा, स्वच्छ हवादार, शांत और खुले आकाश के नीचे होना चाहिए। अब पद्मासन, सिद्धासन या सामान्य आलथी पालथी लगाकर आसन पर बैठें। रीढ़ सीधी रखकर बैठें। इस तरह बैठें किसामने चंद्रमा दिखता रहे। अब 16 मिनट चंद्रमा की ओर एकटक देखें। फिर आंखें बंद कर लें। अब चंद्रमा को मन की आंखों से देखने का प्रयास करें। मन में यह भावना लाएं किचंद्र की सकारात्मक और ओजपूर्ण किरणें आपके मन-मस्तिष्क को मजबूत बना रही है। बिलकुल शांत मन से चंद्र की किरणों को समेटने का प्रयास करें। लगभग आधे घंटे तक यह प्रक्रिया करें।

Chandra Grahan Story : क्यों लगता है चांद को ग्रहण, क्या है इसके पीछे की कहानी?Chandra Grahan Story : क्यों लगता है चांद को ग्रहण, क्या है इसके पीछे की कहानी?

अन्य उपाय

  • कार्तिक पूर्णिमा के दिन चंद्र का रत्न मोती धारण करें इससे चंद्र मजबूत होगा और इससे जुड़े बुरे प्रभाव दूर होंगे।
  • जिन लोगों का चंद्र क्षीण होता है उन्हें कफ, सर्दी-जुकाम की समस्या बनी रहती है। इसके लिए चंद्र रत्न मोती के आसपास दो लाल रंग के मोती डालकर गले में पहनें।
  • कार्तिक पूर्णिमा के दिन कच्चे दूध से भगवान शिव का अभिषेक करने से चंद्र से जुड़े ग्रहदोष दूर होते हैं।
  • चंद्र की महादशा, अंतर्दशा चल रही हो तो चांदी के गिलास में पानी पीने से चंद्र के शुभ प्रभाव बढ़ जाते हैं।
  • चंद्र को मजबूत करने के लिए मां या मां के समान स्ति्रयों की सेवा करें। उन्हें मावे-दूध से बनी मिठाई भेंट करें।
  • शिवलिंग पर चावल अर्पित करने से चंद्र मजबूत होता है।

English summary

Kartik Purnima 2021 coming on 19th november. Here is Moon Remedies or Chandra Dosha Nivaran on Kartik Purnima.



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here